Wednesday, September 12, 2012

Bikaner : Dharm Dhara


बीकानेर में लालीमाइजी री बगेची; नवलपुरीजी रो मठ, धुनीनाथजी मिन्दर,
श्रीभजनेजी री साल, नागणेचेजी मिन्दर, चन्दन सागर,  खाखीजी का अखाड़ा, डगली
संतपीठ सूरसागर, खरनाडा, बेणीसर बारी, कुभारां में लहरीबाबा अ‘र करणगिरिजीरी
बगेची, बीकोजी री टेकरी, फरसोलाई तलाई, बागीनाडा, राणीसर में कुओं अ‘र छत्री,
सोहनगिरि मिन्दर, जयुपरियों रो मिन्दर, देवीकुंड सागर, व्यास जेठमलजी री बगेची,
जोड़-बीड़, सांवतगिरिजी री गुफा, चेतनानंद आश्रम संसोलाव, बडारण लाला रो मिन्दर ;
भीनासर में महंत षिवजीराम अ‘र महंत गुलाबदास रो स्थान, कन्दोयां में संत
श्रीइमरत रामजी बेदों की बगेची , राजरतन बिहारी बगेची मांय बूढा खाखीजी रा भगत,
मूंधड़ों मांय श्रीमिरचीगिरिजी, डागों री बगेची मांय दादूपंथी सहजरामदासजी,
जसोलाई महादेव मिन्दर मांय दादूपंथी जीवणदासजी रा भगत....
अ'र ...बाकी साधु-संता
अ'र मिन्दारा रा घणाइ नांव आप जड़ दीजो सा...