Skip to main content

आपने लिखी है पुस्तक तो पा सकते हैं पुरस्कार’, कृतियां/प्रस्ताव भिजवाइए

 बीकानेर/ श्रीडूंगरगढ  । 13 मई  2018 ।
हिन्दी व राजस्थानी भाषा-साहित्य के मौलिक लेखन को सम्मान प्रदान करने के दृष्टिगत राष्ट्रभाषा हिन्दी प्रचार समिति, श्रीडूंगरगढ द्वारा प्रति वर्श दिए जाने वाले   पुरस्कार क्रमशः  ‘डॉ. नंदलाल महर्शि स्मृति हिन्दी साहित्य सृजन पुरस्कार’, ‘पं. मुखराम सिखवाल स्मृति राजस्थानी साहित्य सृजन पुरस्कार ’ एवं ‘बृजरानी भार्गव स्मृति युवा साहित्यकार पुरस्कार’ हेतु कृतियां/प्रस्ताव बतौर प्रविष्टि आमंत्रित की गई है । इस आषय की जानकारी देते हुए संस्थाध्यक्ष श्याम महर्शि ने बताया कि उक्त दोनों ही पुरस्कार ग्यारह-ग्यारह हजार रूपये के होंगे और 14 सितम्बर, 2018 को संस्था के वार्षिकोत्सव के अवसर पर आयोज्य समारोह में प्रदान किए जायेंगे । महर्शि ने बताया कि भाशा, साहित्य एवं संस्कृति के क्षेत्र में उल्लेखनीय अवदान के लिए दिए जाने वाला प्रतिश्ठित ‘श्री मलाराम माली स्मृति साहित्यश्री सम्मान’ के लिए भी प्रस्ताव आमंत्रित किए गये हैं । सम्मान हेतु विगत 20 वर्शो के सम्बन्धित क्षेत्र के योगदान को ध्यान में रखा जाएगा।
इस सम्बन्ध में विस्तृत जानकारी देते हुए संस्था के संयुक्त मंत्री रवि पुरोहित ने बताया कि हिन्दी व राजस्थानी  पुरस्कारों के लिए आवेदक  की आवेदित पुस्तक या प्रस्तावक द्वारा प्रस्तावित पुस्तक पुरस्कार वर्ष से 5 वर्ष पूर्व तक की कालावधि में प्रकाशित होनी चाहिए । इस वर्श 2018 के पुरस्कारों हेतु  वर्ष 2013 से 2017 तक के प्रकाशन ही विचारार्थ स्वीकार्य होंगे । पुरस्कार हेतु आवेदित/प्रस्तावित कृति  साहित्य की किसी भी विधा में हो सकती है परन्तु विश्वविद्यालय की डिग्री या अन्य परियोजनाओं के तहत किए गए कार्य/शोध इस हेतु मान्य नहीं होंगे । सम्पादित कृतियां, विवरणिकाएं, स्मृति या अभिनन्दन-गं्रथ, रचना समग्र, स्मारिकाएं आदि पुरस्कार की मौलिक लेखन की परिभाषा में षामिल नहीं होंगी और कोई भी आवेदक किसी वर्ष विशेष में केवल एक ही पुरस्कार हेतु आवेदन कर सकेगा । युवा पुरस्कार हेतु आवेदक/ नामित कृतिकार की आयु 1 जनवरी 2018 को 40 वर्श से अधिक नहीं होनी  चाहिए । आयु की पुश्टि हेतु पुश्टिकारक साक्ष्य आवेदन या प्रस्ताव के साथ संलग्न किया जाना आवष्यक होगा, अन्यथा इस पर विचार सम्भव नहीं होगा ।
मंत्री बजरंग षर्मा  ने बताया कि  विहित अवधि में प्रकाषित पुस्तक की एक प्रति मय संक्षिप्त परिचय एवं फोटो 15 जुलाई 2018 तक  निःशुल्क मंत्री, राश्ट्र्रभाषा हिन्दी प्रचार समिति, संस्कृति भवन, एन.एच.11 जयपुर रोड, श्रीडूंगरगढ (बीकानेर) राज0 331803 के पते पर प्रेषित करनी होगी । प्राप्त पुस्तकें वापस नहीं लौटाई जावेगी और पुरस्कारों हेतु गठित समिति का निर्णय अन्तिम होगा ।  श्री मलाराम माली स्मृति साहित्यश्री सम्मान, डॉ. नंदलाल महर्शि स्मृति हिन्दी साहित्य सृजन पुरस्कार  एवं   पं. मुखराम सिखवाल स्मृति राजस्थानी साहित्य सृजन पुरस्कार  में प्रत्येक को सम्मान-पुरस्कार स्वरूप ग्यारह हजार रूपये नगद एवं बृजरानी भार्गव स्मृति युवा साहित्यकार पुरस्कार विजेता को 5100 रूपये नगद राषि, सम्मान-पत्र, स्मृति-चिह्न, शॉल आदि भी यथा संस्था निर्णय अर्पित किए जायेंगे । पुरस्कार-सम्मान निर्णय की घोषणा अगस्त माह के तृतीय  सप्ताह में की जावेगी ।
- Mohan Thanvi


Comments

हर एक पल की मुस्कान

असपा नुक्कड़ सभाओं से लोगों को जागरूक करेगी

खबरों में बीकानेर 🎤

*असपा आज से करेगी नुक्कड़ सभा का आगाज*
*बीकानेर।* अनारक्षित समाज पार्टी (असपा) शनिवार से नुक्कड़ सभा का आगाज करने जा रही है। सभा के माध्यम से जातिगत आरक्षण और एससी एसटी एंट्रोसिटी एक्ट के दुष्परिणामों से आमजन को अवेयर किया जाएगा। असपा के राजस्थान प्रदेश प्रभारी डी पी जोशी ने बताया कि शनिवार शाम 6:30 बजे रानी बाजार चौपड़ा कटले के पास एक नुक्कड़  सभा रखी गयी है। उन्होंने बताया कि सभा  के जरिए हम चुनावी रण में हमारी आवाज़ बुलंद करेंगे ताकि आमजन के हितों की रक्षा की जा सके। जोशी ने बताया कि सभा में पार्टी के चुनाव चिह्न हेलमेट से भी आमजन को अवगत कराया जाएगा।

खबरों में बीकानेर 🎤 : सरकारी स्कूलों के भी होंगे ट्विटर अकाउंट - ✍️ जय नारायण बिस्सा

खबरों में बीकानेर 🎤
सरकारी स्कूलों के भी होंगे ट्विटर अकाउंट
-✍️ जयनारायण बिस्सा
बीकानेर। शिक्षा विभाग की ओर से सरकारी स्कूलों के स्तर को निजी स्कूलों के स्तर तक पहु ंचाने के लिए नित नए प्रयास किए जा रहे हैं। जिससे सरकारी स्कूलों में विद्यार्थियों के नामांकन  में बढ़ोत्तरी हो सके। इसके लिए विभाग ने अब प्रदेश के समस्त सरकारी स्कूलों के संस्था  प्रधानों को स्कूल के ट्विटर अकाउंट खोले जाने के आदेश दिए हैं। ट्विटर पर सरकारी स्कूलों  के आने से निजी स्कूलों की तरह व्यापक प्रचार प्रसार होने के साथ ही सरकारी स्कूलों के संस्था  प्रधान भी टेक्नोलॉजी से जुड़ेंगे। विभाग का इस पहल को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य राजकीय  विद्यालयों में विद्यार्थियों का नामांकन बढ़ाना, स्कूल की भौतिक व्यवस्था में बदलाव लाना,  दूरदराज के स्कूलों की जानकारी आमजन तक पहुंचाना है। अधिकारियों की मानें तो अकाउंट  खुलने से किसी भी जगह से कोई भी व्यक्ति सरकारी स्कूलों में होने वाली गतिविधियों व  भौतिक सुविधाओं को देख सकेगा। इसके लिए समस्त संस्था प्रधानों को जिला शिक्षा अधिक ारी की ओर से आदेश जारी कर दिए गए है।
इन जानकारियों…

खबरों में बीकानेर 🎤 : ग्रीन कैमिस्ट्री व ट्रैक्नोलोजी विषयक अंतरराष्ट्रीय कार्यशाला व सिम्पोजियम 15 से 17 अक्टूबर 2018 तक

* खबरों में बीकानेर 🎤*
कई देशों से वैज्ञानिक आ रहे हैं बीकानेर, होगी अतंरराष्ट्रीय सिम्पोजियम एवं वर्कशाप

डूंगर काॅलेज में अंतर्राष्ट्रीय सिम्पोजियम व कार्यशाला की तैयारी पूर्ण
बीकानेर 12/10/2018 । डूंगर महाविद्यालय बीकानेर रायल सोसाइटी आफ कैमिस्ट्री लंदन एवं ग्रीन कैमिस्ट्री नेटवर्क सेंटर दिल्ली के संयुक्त तत्वावधान में 15-17 अक्टूबर 2018 को  रविन्द्र रंगमंच पर आयोजित किये जाने वाले अतंरराष्ट्रीय सिम्पोजियम व वर्कशाप की तैयारियो के सिलसिले में  रसायन विभाग में प्राचार्य डा. सतीश कौशिक की अध्यक्षता में प्रेस कांफ्रेंस आयोजित की गई। डा. कौशिक ने बताया कि ग्रीन कैमिस्ट्री व ट्रैक्नोलोजी विषय पर होने वाली इस अर्तराष्ट्रीय कार्यशाला  व सिम्पोजियम की तैयारिया लगभग पूर्ण हो चुकी हैं। कार्यक्रम के आरम्भिक सत्र में मुख्य अतिथि के रूप में रायल सोसाइटी कैमिस्ट्री के प्रोफेसर राकेश शर्मा, विशिष्ट अतिथि टैक्नोलोजी मिशन इंडिया के प्रभारी डा. संजय वाजपेयी होगें एवं अध्यक्षता महाराजा गंगासिंह विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर भगीरथ सिंह करेंगे। तीन दिन की कार्यशाला में 250 से अधिक वैज्ञानिक भाग लेंगे…