Tuesday, June 6, 2017

यूआईटी का दावा - कर्ज चुकता; होगा शहर का विकास; आए अच्छे दिन

पेयजल कनेक्शन बिना सिंचित स्वर्ण जयंती योजना को पानीदार बनाने के प्रयास  

बीकानेर 6/6/17 ( मोहन थानवी )। यूआईटी करोड़ों के  कर्ज तले दब रही थी मगर अब इसे कर्ज से उबार लिया गया है। कुछ करोड़ बाकी हैं जो चंद दिनों में चुका दिए जाएंगे। ऐसे दावे के साथ साथ यूआईटी चेयरमैन महावीर रांका ने शहर विकास पर 20 करोड़ लगाने की घोषणा भी की। वे अपने कक्ष में पत्रकारों से रूबरू हुए। विकास कार्य प्रस्तावों की जानकारी साझा करते हुए रांका ने कहा कि  बीकानेर पूर्व विधानसभा क्षेत्र तथा पश्चिम विधानसभा क्षेत्र में नौ करोड़ और, लिलिपौंड के समीप केरिसल झूले, बालिका गौरव उद्यान, विज्ञान टैक्नोलॉजी पार्क, स्वर्ण जयन्ती में विकास कार्यों एवं जोड़बीड़ आवासीय योजना सहित शहर में विकास कार्यों के लिए न्यास ने 20 करोड़ रूपए का बजट जारी किया है। रांका ने कहा कि सीवरेज, सड़क, नाली सहित अनेक विकास कार्य न्यास द्वारा करवाए जाएंगे। जिनकी प्रक्रिया लगभग एक सप्ताह में प्रारंभ हो जाएगी। प्रेसवार्ता में पूर्व पार्षद गोकुल जोशी, पूर्व क्षेत्र विधायक सिद्धि कुमारी, भाजपा शहर अध्यक्ष सत्यप्रकाश आचार्य तथा न्यास सचिव आर.के. जायसवाल उपस्थित रहे। पत्रकारों ने  विधायक को शहर के दोनों क्षेत्रों की जन समस्याओं से निजात दिलाने में अब तक सफल नहीं हुई निकायों की गतिविधियों पर असंतोष भी दर्ज करवाया।

जोड़बीड़-4 शुरू :- 

जोड़बीड़ आवासीय योजना के चतुर्थ चरण का शुभारम्भ

बीकानेर ईस्ट रेलवे स्टेशन के समीप स्थित जोड़बीड़ योजना जो कि न्यास द्वारा विकसित आवासीय योजना जयनारायण व्यास कॉलोनी से 3 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। इस आवासीय योजना के चतुर्थ चरण के आवंटन का शुभारम्भ प्रेसवार्ता के दौरान किया गया। न्यास अध्यक्ष महावीर रांका ने बताया कि जोड़बीड़ आवासीय योजना में अधिकांश आधारभूत सुविधाओं के लिए विकास कार्य करवाए जा चुके हैं इसके साथ ही विभिन्न सुविधाओं हेतु पर्याप्त भूमि का आरक्षण किया गया है। योजना में केन्द्र सरकार, राज्य सरकार एवं उनके उपक्रम, शिक्षण सुविधाओं, बैंक, पोस्ट ऑफिस, सिनेमा हॉल, चिकित्सालय, शॉपिंग कॉम्पलेक्स एवं व्यापारिक भूखंड उपलब्ध होंगे। हाल ही में भूजल विभाग का कार्यालय योजना में संचालित है। वर्तमान में करीब डेढ़ करोड़ रूपए विकास कार्यों में खर्च किए जाएंगे। न्यास द्वारा विभिन्न माप के 500 भूखंडों का आवंटन लॉटरी के माध्यम से किया जाना है।

पेयजल कनेक्शन बिना सिंचित स्वर्ण जयंती योजना को पानीदार बनाने के प्रयास :- 

न्यास अध्यक्ष महावीर रांका ने बताया कि पूर्व में आश्वस्त किया गया था कि स्वर्ण जयंती विस्तार योजना से प्राप्त का आय का मुख्य भाग इसी योजना में विकास कार्यों हेतु खर्च किया जाएगा। इसी सन्दर्भ में करीब 5 करोड़ रुपए की राशि सड़क, पानी, बिजली, सीवरेज लाइन, ड्रेनेज निर्माण तथा पार्कों का निर्माण आदि मूलभूत सुविधाओं के साथ विकास हेतु खर्च किए जाएंगे।

न्यास की स्थिति में काफी सुधार

न्यास अध्यक्ष महावीर रांका ने पत्रकारों को सम्बोधित करते हुए कहा कि अध्यक्ष पद ग्रहण करते ही मेरा पहला लक्ष्य न्यास की वित्तीय स्थिति में सुधार करने का रहा और आज न्यास की वित्तीय स्थिति में काफी सुधार हुआ है। न्यास द्वारा जेडीए से लिए गए लोन की अधिकतम राशि चुका दी गई है तथा शीघ्र ही शेष बकाया भी चुका दिया जाएगा। न्यास के ठेकेदारों के पुराने बकाया को लौटाया जाना शुरू कर दिया गया है और शेष ठेकेदारों की बकाया राशि जल्द ही चुका दी जाएगी। न्यास अध्यक्ष रांका ने कहा कि न्यास का उद्देश्य रहा है कि नगरवासियों को न्यास योजनाओं का बेहतर लाभ मिले।

ये होंगे विकास कार्य

पाब्लिक पार्क को मुख्य पार्क के रूप में विकसित करते हुए करीब 35 लाख की लागत से विश्व स्तरीय केरिसल झूलों को लिलिपोंड के समीप लगाया जाएगा। स्वर्ण जयंती योजना के समीप रिडमलसर की 10 एकड़ जमीन पर बालिका गौरव उद्यान न्यास द्वारा विकसित करवाया जाएगा। चेयरमैन रांका ने बताया कि बीछवाल आवासीय योजना में विज्ञान एवं टेक्नोलॉजी पार्क विकसित करने के लिए 10 एकड़ भूमि उपलब्ध करवाई जाएगी। वहीं न्यास की मुरलीधर व्यास कॉलोनी में दो करोड़ रुपए के कार्य स्वीकृत कर दिए गए हैं। मुख्यमंत्री जन आवास योजना में पांच भूखंडों पर अफोर्डेबल हाउसिंग निर्माण हेतु ईओआई आमंत्रित की जा रही है। इसी के साथ ही मुख्य रूप से बीकानेर पश्चिम क्षेत्र 4.50 करोड़ तथा बीकानेर पूर्व क्षेत्र में 4.50 करोड़ सड़क, नाली तथा सीवरेज आदि विकास कार्यों हेतु कुल 9 करोड़ रुपए स्वीकृत किए गए हैं।

- मोहन थानवी

फोटो : फोटो जर्नलिस्ट आर सी सिरोही