Skip to main content

पहाकनि जी बरसाति

पहाकनि जी बरसाति।
अजु तव्हांखे पहाकनि में बरसाति जी गाल्हियूं था बुधायूं। असांजो मकसद सिन्धु भाषा, बोली ऐं संस्कृतिअ जियूं खासियतूनि खे तव्हां तांई पूजायणो आहे। राय-मशविरा इनि बारे में असांखे मिलन्दी त घणी खुशी थीन्दी। -
 डखिण मींह न वसिणा,
जे वसे त बोेड़े,
काइर धकु न हणिणा,
जे हणे त झोरे।
सिन्धु में घणो करेेे डखण-ओलह खां बरसाति न पवन्दी आहे। पर जे इन तर्फ जी बरसाति पई त चंगी बोड़ बोड़ा करे छडीन्दी आहे। याद रखिण जी गाल्हि आहे, असांजो अजमेर समेत ओलह जो राजस्थान बि इन्हींअ ई भौगोलिक स्थितिअ में वसयलि आहे। खास तौर बीकानेर, जैसलमेर वगैरह।
बुठो त थरु, न त बरु
थरपारकर वारो धणो जिलो वारीअ वारो आहे। हिते आबादीअ जो घणो दारोमदार बरसाति ते आहें थर में जे बरसात पेई त उहो सजो इलाइको सुख्यो सताबो ऐं सुन्दर बणिजी पवन्दो, न त उव्हो रेगिस्तान ई आहे।
वसे त कोहु, न त रोहु
बरसाति में इलाइको सुहिणो, न त सुकलु मुल्क।
सियारे में सीउ पवे, आड़हड़ में आरायूं
सन्धु बिन्हीं में को न को, कंहिं खे साराहियूं!
सिन्धु जे उत्तर में सर्दी ऐं गर्मी बई घणियूं थीन्दियूं आहिनि, जेेके परेशान कन्दड़ आहिनि।
डिठो चेटु, पियो अंबनि में मेठु
चेट जे महीने खां पोइ अंबनि में रसु ऐं मिठासु अची वेन्दी आहे।
 जय झूलेलाल। 

Popular posts from this blog

देश के भविष्य को नए आयाम देने के मार्ग पर चल रही मेधावी छात्राओं को स्कूटी मिली; हैलमेट मिलेगा

मेधावी छात्रा स्कूटी वितरण कार्यक्रम के तहत 44 छात्राएं हुई लाभांवितबीकानेर, 20 जुलाई 2017 ( मोहन थानवी )।  देश के भविष्य को नए आयाम देने के मार्ग पर चल रही 44 मेधावी छात्राओं के चेहरे खिले हुए थे मगर वे बातें धीर-गंभीर कर रहीं थीं। एक छात्रा ने कहा; अरे सुन तो... मैं तो स्कूटी चला कर घर नहीं जा पाऊंगी। दूसरी का सवाल था - क्यों ? उसे जवाब मिला; यार मेरे पास तो  न हैलमेट है न लर्निंग लाइसेंस। चैकिंग में फंस गई तो ? स्कूटी मिलने की खुशियां मनाती इन छात्राओं की बातचीत में जहां व्यवस्था के अनुसार चलने का ज्बा था वहीं शहर में ट्रैफिक सुचारु बनाए रखने के लिए की जाने वाली चैकिंग के प्रति सम्मान भी झलक रहा था मगर इन सब पर  प्रोत्साहन में स्कूटी मिलने की खुशी सबसे बड़ी थी। ऐसा नजारा हुआगुरूवार को राजकीय महारानी सुदर्शन कन्या महाविद्यालय में जहां समारोह में 44 मेधावी छात्राओं को स्कूटी वितरित की गई। इस मौके पर गत वर्ष स्कूटी प्राप्त करने वाली 35 छात्राओं हैलमेट दे चुके संसदीय सचिव डॉ. विश्वनाथ मेघवाल ने इस बार स्कूटी प्राप्त करने वाली सभी 44 छात्राओं को भी यातायात नियमों की अनुपालना करने का आह्…

बीकानेर : स्थापना दिवस मना रहा है शहर

बीकानेर : स्थापना दिवस मना रहा है शहर

जयपुर-दिल्ली बाइपास पर हुआ बीकाजी के भव्य शोरूम का उद्घाटन

जयपुर दिल्ली बाईपास पर बीकाजी के भव्य शोरूम का उद्घाटन  माननीय श्री शिवरतन जी अग्रवाल (फन्ना बाबू) बीकाजी ग्रुप के चेयरमैन राजस्थान सरकार के वरिष्ठ अधिकारी एआईएस निरंजन जी आर्य के हाथों संपन्न हुआ  इस अवसर पर मक्खनलाल अग्रवाल घनश्याम लखाणी विष्णु पुरी हेतराम गौड रविंद्र जोशी महेंद्र अग्रवाल सूरजमल खंडेलवाल व शोरूम के सभी संचालक मौजूद रहे।